पॉपुलर ख़बरें बड़ी खबर बिहार लेटेस्ट न्यूज़

राषटीय जनता दल के युवा नेता ने भारत सरकार से शहीद का दर्जा देने की मांग

0Shares

2 दिन पहले जम्बू कश्मीर में आतंकवादियों से लोहा लेते समय बिहार के 2 जवान अपनी जान शहादत कर दी,पटना एयरपोर्ट पर पहुंचा शहीदों का पार्थिव शरीर, कश्मीर में बीते 2 दिन पहले बिहार के दो लाल खुर्सीद खान व लुवकुश हुए थे शाहिद।जम्बू कश्मीर के बारामूला आतंकी हमले में जान गंवाने वाले CRPF जवानों को पटना एयरपोर्ट पर दी गई अंतिम श्रद्धांजलि, शहीद जवान बिहार के जहानाबाद जिले के लव कुश व रोहतास जिले खुर्सीद खान की बीते रात को पर्थिक शरीर पटना आई । जिसके बाद मान सम्मान के साथ श्रद्धांजलि दी गई। बारह मुला के करेली में आतंकवादियों ने सुरक्षा बलो पर हमला बोला था।जिसमे बिहार के 2 जवान की शाहिद हो गई थी। सी आर पी एफ 119 बटालियन में तैनात थे दोनो जवान।

अंतिम सलामी में उपस्थित
कल शाम 4 बजे शहीदों के शव को लेकर विमान पटना एयरपोर्ट पर पहुंचा। वहां उनके पार्थिव शरीर पर , पटना के कमिश्‍नर, डीजीपी गुप्‍तेश्‍वर पांडेय, एएसबी व सीआरपरएफ के डीजी ,संजय अग्रवाल साथ पटना के एसएसपी उपेंद शर्मा ने माल्‍यार्पण किया। माल्‍यार्पण करने वालों में , प्रेम कुमार व कृष्‍ण नंदन वर्मा,बिहार सरकार में मंत्री जयकुमार सिंह, पूर्व सांसद पप्‍पू यादवनेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव तथा भी शामिल थे

Rjd युवा नेता व प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने कहा
राषटीय जनता दल के युवा नेता ने भारत सरकार से शहीद का दर्जा देने की मांग करते है,साथ ही उन्हों ने कहा कि मेरे साथ पूरा बिहार इन बिर जवान सहीदो के परिवार के साथ खड़ा है।इन शहीदों को देश याद रखेगा,साथ ही सवाल खड़ा किये की केंद्र सरकार से भी इनके परिजनों को आर्थिक मददत नोकरी देने में सहयोग करे।हम हमेसा देश के जवानों के लिये खड़ा रहता ही।भारत मे केवल सेना को ही शाहिद का दर्जा मिलता है।पर विचार विमस कर CRPF कर्मियों को भी शहीद का दर्जा मिलना चाहिय,

लवकुश के पिता सुरेश शर्मा ने बताया कि उनका बेटा 2014 में सीआरपीएफ भरती हुये थे। उनके 2 बच्चे है एक बेटी दूसरा बेटा साथ ही बताया कि उनका बेटा लवकुश 2019 के दिसम्बर में छुट्टी आये थे,और बीस जनवरी को श्री नगर के लिये चले गए थे। रोहतास जिले के खुर्सीद खान को बताया जाता है कि सीआरपीएफ के चालक थे जो बहुत बहादुर कुशल चालक थे उनके पिता का मौत बीते कुछ दिन पहले ही हुई थी। बिहार के दोनों शहीदों का पर्थिक शरीर उनके गाव में अंतिम सलामी बाद पुलिस बल के साथ भेजवा दिया गया।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *