गोपालगंज के साइंटिस्ट विवेक का कोरोना दवा का हुआ सफल परीक्षण

0Shares

गोपालगंज के साइंटिस्ट विवेक का कोरोना दवा का हुआ सफल परीक्षण

जहाँ पुरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं। दुनिया के सभी वैज्ञानिक कोरोना की दवा खोजने मे लगे है। गोपालगंज जिले के वही दो नन्हे वैज्ञानिक ने कमाल कर दिया है। कोरोना वायरस का दवा खोजने के साथ ही सफ़ल परिक्षण भी कर लिया है। गोपालगंज जिले के बैकुण्ठपुर प्रखण्ड के बनौरा गांव के स्वः त्रिभुषण कुमार प्रसाद का पुत्र एवं आर्यभट्ट विज्ञान क्लब गोपालगंज के समन्वयक विवेक कुमार जुनियर साइंटिस्ट एवं देवरिया जिले के खुदिया मिश्र गांव के जंगदमबा प्रसाद का पुत्र अभिषेक कुमार के द्वारा हर्बल रिसर्च के द्वारा कोरोना वायरस का दवा बनाया है।

जिसका पहले परिक्षण आस्थमा और निमोनिया के रोगी पर सफलता पूर्ण हो चुका था। पहली बार विवेक कुमार के द्वारा अपनी दवा का परिक्षण कोरोना मरीज (कोविड-19) बैकुण्ठपुर के दिघवा गांव के नेता अंजनी कुमार ओझा उर्फ डब्लू ओझा पर किया गया ,और दवा किया जाता सफल हो गया। इन्हों ने किए गए कोरोना संक्रमण की इलाज का वीडियो भी जारी किया गया है।जिसमे मरीज ठीक होने का दवा कर रहे है।

इसके साथ अगर ये सत्य है तो विवेक कुमार की दवा सफल होने पर गोपालगंज जिले वासियों मे खुशी की लहर दौड़ आ सकती है। विवेक कुमार 2019 मे जीव विज्ञान से बारहवी पास कर नीट का परीक्षा का तैयारी कर रहे है। विवेक कुमार इसके पहले एक चार्जेबूल जूते का अविष्कार कर चुके हैं। जिसके लिए उनको कनाडा सरकार ने अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार दे कर समानित किया है। वही अभिषेक अभी जीव विज्ञान का बारहवी के छात्र है। साथ ही बच्च्पन से ही आर्येदिक दवा के बारे बहुत ही अच्छा जानकारी है। विवेक कुमार अपनी रिसर्च को बिहार सरकार , भारत सरकार, आयुष मंत्रालय, स्वास्थ्य विभाग को ईमेल द्वारा जानकारी दिये है। लेकिन अभी तक कोई कदम नही उठाया गया है। जिसके बाद अपनी रिसर्च विवेक ने अमेरिकी राष्ट्रपति ड्रोनाल ट्रम्प को भी भेजा है।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *